Friday, April 29, 2016

O ओ जाने वाले हो सके तो लौट के आना, मुकेश

अब तक मैंने आपको अनगिनती गीत सुनवाए हैं एक से एक बेहतरीन और पुर सोज़ ! उसी श्रंखला में आज सुनिए एक और बहुत ही खूबसूरत दर्द भरा गीत ! आवाज़ है मुकेश जी की, फिल्म है 'बंदिनी' और इस गीत को स्वरबद्ध किया है स्वर सम्राट एस. डी. बर्मन ने ! तो लीजिए प्रस्तुत है मेरी पसंद का यह गीत !

साधना वैद