Friday, August 3, 2012

CHITTHI NA KOI SANDESH- JAGJEET SINGH FILM- DUSHMAN ADD BY GOPAL K.

 

जगजीत सिंह के इस दर्द भरे गीत के साथ अपने भाई को याद कर रही हूँ जो इस नश्वर संसार को छोड़ कर स्वर्गधाम को चले गये और मेरे मन में एक असह्य टीस सौगात के रूप में सारे जीवन के लिए दे गये ! यह संवेदनापूर्ण गीत उन सभी भाई बहनों के लिए है जो दुर्भाग्यवश अपने भाई बहनों से बिछड़ गये और रक्षा बंधन नहीं मना पाए ! इस गीत के साथ सावन के गीतों को यहीं विराम देती हूँ ! कल से 'तराने सुहाने' का सौरभ और स्वरुप  आपको नितांत बदला हुआ मिलेगा इसलिए आना मत भूलिएगा !

साधना वैद

© 2008-13 सर्वाधिकार सुरक्षित!